• शहर चुनें

वोल्वो ने लॉंच किया नया आइ-शिफ्ट गियरबॉक्स, ख़ास कन्स्ट्रक्षन और हॉलेज संबंधित कामों के लिए

Published On Mar 16, 2016By प्रशांत तलरेजा

स्वीडिश ऑटोमोटिव फर्म, वोल्वो, दुनिया भर में अपनी हेवी ड्यूटी ट्रक रेंज के लिए जानी जाती है। कन्स्ट्रक्षन और हॉलेज क्षेत्रों से जुड़ी कई कॉर्पोरेशन्स ने वोल्वो एफएम और वोल्वो एफएक्स जैसे ट्रक मॉडल्स में अपना भरोसा जताया है। इन मज़बूत रेंज के मॉडल्स के अतिरिक्त, कंपनी प्रशंसित है अपनी निर्णायक और कुशल शिफ्टिंग टेकनोलॉजी के लिए। आइ-शिफ्ट नाम से मशहूर, यह अन्सिंक्रनाइस्ड गियरबॉक्स ड्राइवर का बोझ हल्का करने के लिए भी जाना जाता है, और साथ ही साथ ड्राइविंग की एफीशियेन्सी को भी बढ़ाता है।

वोल्वो अब अपनी आइ शिफ्ट रेंज को अपग्रेड कर रहा है अपने नये वर्ज़न के साथ जिस की घोषणा कंपनी ने हाल ही में की थी। इस नये गियरबॉक्स में दो अतिरिक्त क्रॉलर गियर्स लगे हुए हैं, जो उसके भारी भरकम व्हीक्ल्स की स्टार्टिंग केपॅसिटी को बेहतर बनाने में मदद करेंगे। आसान हॅंड्लिंग के लिए कंपनी ने इस गियर बॉक्स की लंबाई में इज़ाफ़ा किया है, और साथ ही उसे सज्जित किया है मज़बूत और ज़्यादा टिकाऊ मेटीरियल के साथ। कंपनी का दावा है की यह गियर बॉक्सस किसी भी तरह के रास्तों में आने वाली अड़चनों का सामना बड़ी आसानी से कर पाएँगे।

वोल्वो ट्रक्स के प्रॉडक्ट मेनेजर श्री पीटर हार्डिन ने बताया की, "आइ शिफ्ट के साथ क्रॉलर गियर्स व्हीकल को ठहराव की मुद्रा से किसी भी चरम स्थिति पर ले जाना मुमकिन बनता है।" उन्होंने आगे बताया, "इस साथ है, उपयुक्त रियर एक्सल रेशियो जो हाइ स्पीड्स पर इंजन की रेव्स को बेहतर बनता है, और साथ ही हाइवे पर कम फ़्यूल खपत में भी मदद करता है। यह एक बहुत महत्वपूर्ण बेनेफिट है हॉलेज फर्म्स के लिए जो इस तरह के काम करती हैं।"

इन गियर बॉक्सस को ख़ास कन्स्ट्रक्षन और मेंटेनेन्स के कामों में इस्तेमाल के लिए ही बनाया गया है। इस नये कॉंपोज़िशन के साथ, यह व्हीकल रोड के किसी भी खुरदुरे भाग पर भी अपने आप को 1 किलोमीटर प्रति घंटे की कम रफ़्तार पर ड्रिफ्ट करने में कामयाब रहेंगे। इस के अलावा, यह मशीन्स 325 टन के भारी भरकम वज़न को भी आसानी की साथ ढो पाने में सक्षम होंगी, जो महत्वपूर्ण रूप से हॉलेज और कन्स्ट्रक्षन के रोल को बेहतर बनाएगा। यह स्टॅंडर्ड तौर पर 13 लीटर और 16 लीटर के इंजन्स के साथ आएँगे जैसे की एफएम और एफएक्स मॉडल्स में देखने को मिलते हैं।

"नये क्रॉलर गियर की बेहतर ड्राइवेबिलिटी और स्टरटेबिलिटी के साथ यहाँ ड्राइवर का काम काफ़ी आसान हो जाता है, जो की इसको मुश्किल रास्तों और फिसलन भारी सतहों पर हेवी लोड के साथ, कन्स्ट्रक्षन साइट्स, माइन्स और जंगलात में ऑपरेट करने में आसान बनाता है," श्री हार्डिन ने आगे बताया।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?