• शहर चुनें

वोक्सवैगन ट्रक, एशिया में विस्तार करने की योजना भारत पर केंद्रित

Published On Sep 30, 2016By लिसा प्रधान

फ़ॉक्सवैगन ट्रक्स की एशिया में विस्तार की योजना, निशाना भारत पर

ग्लोबल ट्रकिंग इंडस्ट्री में बढ़ती प्रतिस्पर्धा का मुक़ाबला करने के लिए व अपने प्रतिद्वंदियों डेमलर और वोल्वो से लोहा लेने के लिए जर्मन विख्यात फ़ॉक्सवैगन एशियन ट्रक मार्केट में अपने पैर जमाने की योजना बना रही है, जिस में भारत भी शामिल है। माना जा रहा है की कंपनी का यह कदम, व अन्य कई जो की पाइपलाइन में हैं, का मकसद फ़ॉक्सवैगन की नई रणनीति हो सकती है, जिस से डीज़ल एमिशन को लेकर हुए हालिया स्केंडल (कांड) के नुकसान की भरपाई की जा सकेगी।

हालाँकि फ़ॉक्सवैगन 'डीज़ल गेट' एमिशन स्केंडल के बोझ तले आर्थिक रूप से दबी हुई है, और वह फिलहाल अपने ब्रॅंड्स मेन और स्केनिया को रीपोज़िशन करने में लगी हुई है ताकि बचत में इज़ाफ़ा हो सके, इस के बावजूद कंपनी के विस्तार की योजनाएँ बदस्तूर जारी हैं।

अपने मौजूदा ब्रॅंड्स को दोबारा से संगठित करने के अलावा, जर्मनी स्थित ऑटो मॅन्युफॅक्चरर अमेरिका के कमर्शियल व्हीकल मेकर नेवीस्टार में भी स्टेक लेने की सोच रही है, जिस से वह टेक्नोलोजी और पर्चेज़ की पार्ट्नरशिप कर पाएगी।

फ़ॉक्सवैगन से नेवीस्टार की असोसियेशन के बारे में स्पष्ट करते हुए, जो की एक बेहतरीन प्रवेश द्वार होगा फ़ॉक्सवैगन के लिए ट्रक्स के लाभदायक मार्केट में, श्री आंड्रेयस रेंस्चलेर, जो की सीईओ हैं फ़ॉक्सवैगन ट्रक्स एंड बस जीएमबीएच में, ने कहा की, "हमारा लक्ष्य निश्चित रूप से सबसे पहले नॉर्थ अमरीका के ब्लेंक स्पॉट को ख़तम करना है।"

फ़ॉक्सवैगन भारत पर अपना ध्यान केंद्रित करना चाहती है अपनी मेन सबसिडियरी के द्वारा देश में प्रॉडक्ट मॅनेज्मेंट और उप-महाद्वीप में अपने सेल्स नेटवर्क का विस्तार करते हुए। भारत देश को अलग करते हुए, मेन ट्रक्स के चीफ श्री जोआशिम ड्रेयीस ने कहा की, "मुझे यकीन है की हम यहाँ पर और भी बेहतर ग्रोथ दर्ज कर सकते हैं।" श्रो ड्रेयीस ने रियुटार्स को बताया की, "हम यहाँ भारत में क्षमता को बेहतर होतय देख रहे हैं," उन्होंने कहा। मेन ट्रक्स देश में हर साल करीब 2000 ट्रक्स की सेल्स अर्जित कर लेता है।

गौरतलब है की, उन्होंने फिर भी खास स्पष्टता का इज़हार नही किया कंपनी के एशिया के अन्य भागों में विस्तार को लेकर। "आप यह समझ सकते हैं की हम जल्द ही एशिया के लिए भी ख़ास आइडियज़ लेकर आएँगे," उन्होंने बताया। श्री रेंस्चलेर ने फिर भी कहा की कंपनी आगे और ज़्यादा विस्तार की योजना चाइना मार्केट में बना रही है जहाँ उसकी मेन सबसिडियरी के पास वहाँ के लोकल मॅन्युफॅक्चरर सीनो ट्रक्स होंग कॉंग में कुछ हिस्सेदारी है।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?