• शहर चुनें

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स का इतिहास

Published On Feb 24, 2017By लिसा प्रधान

यह बात है वर्ष 2011 की जब भारत के सबसे विश्वसनीय ऑटोमोबाइल मॅन्यूफॅक्चरर्स में से एक महिंद्रा ट्रक एंड बस डिवीज़न (एम टी बी डी) ने अपनी सराहनीय सूझबूझ का सबूत देते हुए कमर्शियल व्हीकल क्षेत्र को नई बुलंदियाँ प्रदान करने की ठानी। अपने परम उद्देश्य को पूरा करने के लिए एमटीबीडी ने भारतीय ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री से जुड़े व्यक्तियों और संस्थानों को उन के योगदान व महत्वपूर्ण भूमिका के लिए अवॉर्ड्स से सम्मानित करने की पहल की। जो चुनौती इस ग्रूप ने स्वीकारी थी, वह विशाल और अद्भूत थी, क्योंकि इस से पहले किसी भी संस्था ने भारतीय कमर्शियल व्हीकल क्षेत्र में उस के स्टेक होल्डर्स को प्रोत्साहित करने के लिए ऐसा कदम नहीं उठाया था। एमटीबीडी का मानना था की देश के कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट के जुझारू किंतु गुमनाम नायकों को पहचान दिलाने से उन को ना सिर्फ़ उन के हिस्से का सम्मान और गरिमा प्राप्त होगी (जिस की उस समय काफ़ी कमी थी ट्रांसपोर्टेशन इंडस्ट्री में) बल्कि, इस से धीरे-धीरे ही सही लेकिन दृढ़ता के साथ एक बेंचमार्क की स्थापना होगी, जिस से दूसरे भी प्रेरित होकर इस वर्ग के लिए काम कर सकेंगे। तो इस तरह से महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स की नीव रखी गयी।

इन अवॉर्ड्स के अंतर्गत ट्रकिंग इंडस्ट्री के लगभग सभी स्टेक होल्डर्स (हिस्सेदार) शामिल होते हैं जैसे फ्लीट ओनर्स, ट्रांसपोर्ट कंपनीज़, ट्रक ड्राइवर्स, डीलर्स व साथ ही ढाबे के मालिक भी। तो चलिए नज़र डालते साल 2011 से लेकर अब तक हुए सम्मानित अवॉर्ड्स समारोहों के विभिन्न संस्करणों पर।

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2011

महिंद्रा ने अपने पहले ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स का आयोजन नई दिल्ली के एक चमचमाते समारोह में 20 दिसंबर, 2011 को किया। इस समारोह में महिंद्रा ग्रूप के टॉप लेवल के सभी एग्ज़िक्युटिव्स ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इवेंट में चीफ गेस्ट के तौर पर माननीय श्री प्रफुल पटेल मौजूद थे, जो की उस समय केंद्र में हेवी इंडस्ट्रीज़ और पब्लिक एंटरप्राइज़स के मिनिस्टर थे।

भारतीय कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट में पहली बार 'हाइवे ढाबा' अवॉर्ड को अपने नाम किया आर. के. फुड पॉइंट ढाबा के श्री रवींद्रा सिंह ने। साथ ही अब तक का पहला 'सूपर आउट-परफॉर्मर ड्राइवर ऑफ दी इयर' अवॉर्ड दिया गया श्री अब्दुल ग़नी को, जो की प्रोफेशनल ऑटोमोटिव्स लिमिटेड में फ्लीट ड्राइवर हैं। श्री अब्दुल ग़नी को इनाम के तौर पर ब्रांड न्यू महिंद्रा नेवीस्टार एमएन25 ट्रक भेंट किया गया। साल 2011 का यह इवेंट फ्लीट ओनर्स से लेकर ट्रांसपोर्टेर्स तक विभिन्न केटेगरीस में बहुत से अन्य विजेताओं का भी गवाह बना।

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2012

9 जनवरी, 2013 को महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स के दूसरे संस्करण का आयोजन किया गया जिस में पिछले साल के मुक़ाबले 60 प्रतिशत ज़्यादा एंट्रीज़ प्राप्त हुईं। अवॉर्ड्स की जगमगाती शाम में एक बार फिर एक ही छत के नीचे ट्रांसपोर्टेशन इंडस्ट्री के विभिन्न वर्गों से संबंध रखने वाले बहुत से लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इस समारोह में कुल 38 राइज़ पिल्लर ट्रोफीज़ प्रदान की गयीं, जिन में 28 क्षेत्रीय और 10 राष्ट्रीय थीं। फ्लीट ओनर्स, ढ़ाबा ओनर्स, फ्लीट ड्राइवर्स और हाइवे मेकेनिक्स जैसी केटेगरीस के अंतर्गत यह अवॉर्ड्स दिए गये।

इस वर्ष की यह अवॉर्ड सेरेमनी ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री के लिए बेहद महत्वपूर्ण थी क्योंकि इस इवेंट में महिंद्रा ने अपनी नई पहल एमपावर, जो की एक तरह का मेनेजमेंट डेवलपमेंट प्रोग्राम है, से भी परदा उठाया। गत कई सालों से लगातार इस प्रोग्राम का सफलता पूर्वक संचालन हो रहा है और इस का शुमार ट्रकिंग इंडस्ट्री के प्रतिष्ठित प्रोग्राम्स में किया जाता है। एमपावर के अंतर्गत महिंद्रा द्वारा नई पीढ़ी के ट्रांसपोर्टेर्स को देश के सबसे मान्यता-प्राप्त बिज़नेस स्कूल्स में से एक, इंडियन इन्स्टिट्यूट ऑफ मेनेजमेंट अहमदाबाद (आईआईएमए) में उच्च स्तरीय शॉर्ट-टर्म ट्रैनिंग प्रदान की जाती है।

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2013

ट्रांसपोर्टेशन इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को प्रोत्साहित करने का साहसी काम महिंद्रा ट्रक एंड बस डिवीज़न द्वारा इस साल भी बदस्तूर जारी रहा। महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स के तीसरे संस्करण का आयोजन 9 जनवरी, 2014 को किया गया।

माननीय श्री ऑस्कर फर्नांडिस, जो की उस समय केंद्र में रोड ट्रांसपोर्ट और हाइवे मंत्री थे, ने इवेंट का शुभारंभ दीप जलाकर किया। उस के बाद सड़क सुरक्षा को लेकर एक पेनल डिस्कशन हुआ जिस में ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री की प्रमुख शख्सियतों ने भाग लिया। जोश से भारी इस शाम में महिंद्रा ने विभिन्न केटेगरीस में कई अवॉर्ड्स प्रदान किए जिस में देश की पहली महिला ड्राइवर श्रीमती योगिता रघुवंशी का अवॉर्ड भी शामिल रहा। योगिता ने अपनी आप बीती से दर्शकों को प्रभावित किया व साथ ही यह भी साझा किया की किस बहादुरी के साथ उन्होंने पुरुष प्रभुत्व वाली इस इंडस्ट्री में हिम्मत के सहारे अपनी राह बनाई। योगिता को महिंद्रा ट्रक एंड बस डिवीज़न की ओर से ब्रांड न्यू महिंद्रा ट्रक, ट्रक्सो 25 गिफ्ट किया गया।

श्री महेंद्रा सिंह राजपूत को इस साल के 'सूपर आउट-परफॉर्मर' के अवॉर्ड से नवाज़ा गया। वहीं फ्लीट ओनर्स ने बाज़ी मारते हुए आठ सेगमेंट्स में से 16 अवॉर्ड्स को अपने नाम किया। हर साल की तरह इस साल भी महिंद्रा ने अपने आप में अनोखी पहल करते हुए ‘महिंद्रा सार्थ अभियान’ के तहत एक प्रेरणा दायक घोषणा की। जिस में कंपनी ने ट्रक ड्राइवर्स की बेटियों को ‘गर्ल चाइल्ड स्कॉलरशिप’ के ज़रिये शिक्षित करने का बीड़ा उठाया।

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2014

25 फ़रवरी 2015 की शाम चकाचौंध से भारी थी। इवेंट में मौजूद थे ट्रकिंग इंडस्ट्री से जुड़े विभिन्न स्टेक होल्डर्स जिन को प्रतिष्ठित महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड 2014 से पुरस्कृत किया जाना था।

प्राप्त की गयी एंट्रिज़ को आउट-परफॉर्मेंस, एक्सलेन्स, इनोवेशन और चेंज लीडरशिप जैसे पेरामीटर्स को आधार मानकर आंका गया था।

इवेंट की शुरुआत एक बड़े ही दिलचस्प पेनल डिस्कशन के साथ हुई जिस में माननीय श्री संजय बन्दोपाध्याय, जो की रोड ट्रांसपोर्ट और हाइवेज़ मिनिस्ट्री में जॉइंट सेक्रेटरी हैं, मॉडरेटर की भूमिका में थे।

इस समारोह में प्राप्त हुईं 2300 एंट्रिज़ में से 36 को विजेता घोषित किया गया। जिन्होंने ट्रकिंग इंडस्ट्री के टॉप अवॉर्ड्स को अपने नाम किया। 'दी लेडी ट्रांसपोर्ट पर्सनॅलिटी ऑफ दी इयर' का खिताब श्रीमती हेमा प्रावा देवी को दिया गया, जो की देश के उत्तर-पूर्व इलाक़े से एलपीजी ट्रांसपोर्टेर के रूप में कार्यरत हैं।

साथ ही पहली बार इस अवॉर्ड समारोह में श्री डी.पी. अग्रवाल को महिंद्रा द्वारा 'लाइफ टाइम अचीव्मेंट अवॉर्ड' से सम्मानित किया गया। श्री डी.पी. अग्रवाल ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया (टी सी आई) लिमिटेड में वाइस चेयरमेन और मेनेजिंग डाइरेक्टर के रूप में कार्यरत हैं।

महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2015

ट्रकिंग इंडस्ट्री से जुड़े महिंद्रा ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स इवेंट का पाँचवाँ संस्करण 4 मार्च, 2016 को होटल अशोका, नई दिल्ली में आयोजित किया गया। अवॉर्ड नाइट में चार चाँद लागाने के लिए भारतीय ट्रांसपोर्ट सेक्टर से जुड़ी कई दिग्गज शख़्सियतें मौजूद थीं, जिन को भारतीय ट्रांसपोर्ट इंडस्ट्री के आउट परफॉरमर्स को अवॉर्ड्स से सम्मानित करना था।

पेनल डिस्कशन की शुरुआत श्री अभय दामले की अध्यक्षता में 'ट्रक ड्राइविंग को आकर्षक व्यवसाय बनाना - ड्राइवर्स की कमी का सामना' विषय के साथ हुई। श्री अभय दामले जॉइंट सेक्रेटरी हैं ट्रांसपोर्ट और हाइवेज़ मिनिस्ट्री, भारत सरकार में। श्री नलिन मेहता ने अवॉर्ड्स प्रोग्राम का विवरण प्रस्तुत किया व साथ ही राइज़ अवॉर्ड्स के महत्व को भी रेखांकित किया।

ट्रांसपोर्ट एक्सलेन्स अवॉर्ड्स 2015 की शाम का एक आकर्षण सेफ्टी अवॉर्ड्स भी रहे, जिस का मकसद देश में सुरक्षित ड्राइविंग को बढ़ावा देना था। यह अवॉर्ड्स रोड ट्रांसपोर्ट और हाइवेज़ मिनिस्ट्री, भारत सरकार, के आदेश पर प्रदान किए गये थे। इस केटेगरी के अंतर्गत उस शाम कई अवॉर्ड्स दिए गये जिन में टिप्पर और माइनिंग सेगमेंट के लिए विशेष रूप से अवॉर्ड्स शामिल थे।

श्री धर्मेन्द्र प्रधान, माननीय केंद्रीय मंत्री, पेट्रोलियम और नॅचुरल गैस ने समारोह में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई व महिंद्रा की इस पहल की सराहना की जिस का लक्ष्य अशोभनीय कहे जाने वाले ट्रांसपोर्ट सेक्टर के गुमनाम नायकों को पहचान व सम्मान दिलाने का है।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?