• शहर चुनें

टाटा मोटर्स: फेसबुक पेज से सामने आयीं चौंका देने वाली बातें

Published On Dec 06, 2016By Mukul Yudhveer Singh

टाटा मोटर्स - जिस के अपने नाम के साथ बेशुमार विरासातें जुड़ी हैं, जिन में से कुछ हैं देश का नंबर 1 कमर्शियल व्हीकल मेकर होना, अपने कस्टमर्स को सबसे बेहतर आफ्टर सेल्स सर्विस प्रदान करना, वर्ल्ड क्लास प्रॉडक्ट्स को डेवलप करना और इस सब के बावजूद जब बात आती है प्राइसिंग की तो वो सबकी पहुँच में होती है। इस में कोई शक नहीं है की भारत के इस ऑटो मॅन्युफॅक्चरर ने हर कमर्शियल व्हीकल सेल्स में चोटी का स्थान पाया है। परंतु, यहाँ इस ग्रूप से, जो की समय से आगे चलने के लिए ख्याति प्राप्त है, शायद सोशल मीडीया के मोर्चे पर थोड़ी चूक होती दिखाई दे रही है।

जैसे ही आप टाटा मोटर्स के फेस बुक पेज पर एक नज़र डालेंगे तो सोचेंगे की यहाँ कार्स, बसेस और ट्रक्स के लिए अलग अलग अकाउंट्स क्यों नहीं हैं। भारतीय ऑटोमोटिव दिग्गज अपने सभी प्रॉडक्ट्स को केवल एक ही फेस बुक आकाउंट के मध्यम से प्रमोट करता है। और यहाँ अलग अलग सेगमेंट के हिसाब से उपस्थिति ना होने से ऑटो प्रशंसकों उलझन व असुविधा का सामना करना पढ़ सकता है। ऐसा भी हो सकता है की टाटा मोटर्स अपने कमर्शियल व्हीक्ल्स के सेल्स को और बढ़ाने में काफ़ी व्यस्त हो, और कारणवश उसके पास सभी के लिए अलग अलग सोशल मीडीया हेंडल्स शुरू करने का समय ही ना हो।

बहुत से कमर्शियल व्हीकल मेकर्स जिन्होंने हाल ही में भारत में अपने ऑपरेशन्स शुरू किए हैं, उन्होंने अपनी सोशल मीडीया की उपस्थिति को हर तरह से बनाए रखा है और वह समय समय पर इसको वर्तमान व्हीकल की खबरें व नये लॉंच हुए व्हीकल के बारे जानकारी से अपडेट भी करते रहते हैं। यह ध्यान खीचने वाली बात है की टाटा मोटर्स भारत में 50 साल से भी ज़्यादा के अरसे से मौजूद है। मशहूर कमर्शियल व्हीकल मेकर के पास अपने द्वारा संचालित की जाने वाली रेसिंग लीग (टाटा प्राइमा रेसिंग) के लिए अलग फेस बुक हेंडल है। यह कोई भी आसानी के साथ यह जान सकता है की टाटा मोटर्स के सोशल मीडीया हेंडल्स सिर्फ़ हाल में लॉंच हुईं उसकी कुछ कार्स के बारे में जानकारी को लेकर ही झूल रहा है, पर क्या यह विशाल ब्रांड केवल कार्स तक ही सीमित है।

(नीचे दिए गये ग्राफ टाटा मोटर्स की ओर से सितंबर 2015 से लेकर सितंबर 2016 तक की कमर्शियल व्हीक्ल्स की सोशल मीडीया पोस्ट्स का वर्णन करता है)

जी हाँ, यह सही है की अगर हम आँकड़ों की बात करें तो टाटा मोटर्स ज़रूर अधिकारिक रूप से भारतीय कमर्शियल व्हीकल सेगमेंट का बेताज बादशाह है। लेकिन, यदि हम कंपनी के सेल्स आँकड़ों के पॅटर्न में बदलाव को ध्यान से देखेंगे, तो मालूम पड़ेगा की कहानी ने पहले से ही कुछ अजीब मोड़ लिया हुआ है। पिछले कुछ समय में टाटा मोटर्स की बादशाहत को सचमूच धक्का पहुँचा है, सभी सेगमेंट्स में ना सही पर कुछ सेगमेंट्स पर तो ज़रूर असर पड़ा है। महिंद्रा एंड महिंद्रा ने पहले ही देश के स्माल कमर्शियल व्हीकल (एस सी वी) सेगमेंट में अपनी बढ़त बना ली है। उस ने 79395 स्माल कमर्शियल व्हीक्ल्स की सेल्स अर्जित की है अप्रैल से सितंबर 2016 के अंतराल में। दूसरी तरफ टाटा मोटर्स ने केवल 75289 स्माल कमर्शियल व्हीक्ल्स की सेल्स की है इसी समय के दौरान। सिर्फ़ इतना ही नहीं, यहाँ ध्यान देने योग्य बात यह है की इस समय महिंद्रा के पास कुल 72 प्रतिशत का मार्केट शेयर है देश के स्माल कमर्शियल व्हीक्ल्स सेगमेंट के 2 टन से 3.5 टन केटेगरी में।

टाटा मोटर्स जो की देश में पिछले 50 वर्षों से भी ज़्यादा समय से ऑपरेट कर रही के पास उस के ओफ्फिशियल फेस बुक पेज पर मात्र 62750 'लाइक्स' मौजूद हैं, वहीं उस के बाद मार्केट में आए काफ़ी नये कमर्शियल ब्रॅंड्स के पास उन के फेस बुक पेजिस पर टाटा मोटर्स से ज़्यादा प्रतिक्रियाएँ (रेस्पॉन्स) हैं। तो चलिए देखते हैं टाटा मोटर्स की टॉप 5 पोस्ट्स।

दिनांक - 8 फ़रवरी, 2016

पोस्ट - ऑटो एक्स्पो, टाटा अल्ट्रा 1518 लॉंच

प्रतिक्रियाएँ - 21 हज़ार से ज़्यादा

इस पोस्ट ने फेस बुक पर किसी भी टाटा मोटर्स कमर्शियल व्हीक्ल्स के लिए सबसे ज़्यादा प्रतिक्रियाएँ एकत्रित कीं हैं। इस को भारत में चल रहे ऑटो एक्स्पो 2016 के समय पोस्ट किया गया था। टाटा मोटर्स ने अल्ट्रा 1518 ट्रक को भारतीय मार्केट के लिए जारी करते हुए यह पोस्ट की थी, और यह फेस बुक पोस्ट उसी के बारे में जानकारी देती है। यह पोस्ट कन्ज़्यूमर को टाटा मोटर्स के ऑटो एक्स्पो यूट्यूब हेंडल पर ले जाती है, जो की पहले ही अल्ट्रा 1518 के विडिया के साथ सांगलित है। यह पोस्ट औसतन ठीक थी यह जानते हुए की यह पोस्ट भारत के अग्रीण कमर्शियल व्हीकल मेकर और सेलर के हेंडल से आई थी।

दिनांक - 9 अप्रैल, 2016

पोस्ट - टाटा प्राइमा, विश्वव्यापी प्रतिष्ठा और मान्यता

प्रतिक्रियाएँ - 17 हज़ार से ज़्यादा

हालाँकि, विशेष रूप से इस अपडेट को फेस बुक पर कम प्रतिक्रियाएँ मिलीं टाटा मोटर्स के अन्य पोस्ट के विपरीत, लेकिन फिर भी हम समझते हैं की यह फिर भी काफ़ी बेहतर रही। यह बताती है और बात करती है की किस तरह से टाटा प्राइमा ट्रक्स दुनिया भर में अपना जलवा बिखेर रहे हैं। इन्फोग्राफिक्स की मदद से उन सभी देशों के नाम की लिस्ट भी दी गयी है जहाँ प्राइमा ट्रक्स उपलब्ध हैं। अब, यदि आप को पता लग जाए की भारत में बना ट्रक पूरे विश्व में अपनी छाप छोड़ रहा है, तो निश्चित रूप से आप किसी और ब्रांड के ट्रक को खरीदने से पहले एक बार तो इस को खरीदने का विचार करेंगे ही। एक बढ़िया पोस्ट थी यह टाटा!

दिनांक - 18 अप्रैल 2016

पोस्ट - टाटा अल्ट्रा ट्रक्स केन्या में जारी हुए

प्रतिक्रियाएँ - 1.9 हज़ार से ज़्यादा

जब आप के फेस बुक पोस्ट्स के प्रतिक्रियाएँ 17 हज़ार के बड़े आँकड़े से गिरकर केवल 2 हज़ार से भी कम रह जाए, वह भी उसी महीने में, तो निश्चित रूप से यह चिंता का विषय है और आप का ध्यान माँग रहा है। यह पोस्ट दुनिया को बता रही है की टाटा मोटर्स ने अफ्रीकी देश केन्या में टाटा अल्ट्रा ट्रक्स जारी कर दिए हैं। इस पोस्ट को 1.9 हज़ार के करीब प्रतिक्रियाएँ मिलीं हैं, जो की इस को पिछले फेस बुक पोस्ट्स के मुक़ाबले बहुत ज़्यादा कम हैं। हो सकता है की भारत में लोग टाटा मोटर्स की ग्लोबल पोर्टफोलीयो को लेकर गुणगान करते करते तक गये हों। लेकिन एक पोस्ट जिस में देश की ट्रकिंग कम्यूनिटी की बात हो रही हो इसको और ज़्यादा बेहतर होना चाहिए था, ख़ासतौर से फेस बुक पर।

दिनांक - 22 अगस्त, 2014

पोस्ट - एशिया पेसिफिक क्षेत्र में टाटा मोटर्स की उपस्थिति

प्रतिक्रियाएँ - 716

इन टॉप पाँच फेस बुक पोस्ट्स के बीच गेप से इस बात का पता आसानी से चल जाता है की टाटा मोटर्स अपने फेस बुक हेंडल्स को कितना महत्त्व देता है। यह पोस्ट का मुख्य आकर्षण है टाटा मोटर्स की एशिया पेसिफिक क्षेत्र में, पोस्ट किए गये फोटोस की मदद से, अपनी उपस्थिति दर्ज कराना। लेकिन टॉप प्रदर्शन कर रही पोस्ट्स में दो साल का गेप होना आप ने आप में एक कहानी कहती है। हो सकता है की टाटा मोटर्स सोशल मीडीया को हाल फिलहाल गंभीरता के साथ नहीं ले रही हो, लेकिन आज नहीं तो कल, इस कमर्शियल व्हीक्ल्स दिग्गज से दुनिया उसके सोशल मीडीया हेंडल्स को लेकर उस का आक्रामक रुख़ ज़रूर देखेगी। और वैसे भी उनको यह करना ही होगा, क्योंकि यह समय की माँग है।

दिनांक - 22 सितंबर, 2016

पोस्ट - टाटा अल्ट्रा 1012 लाइट ट्रक व ज़ेनन एक्स टी डी-केब 4X4 पिक-अप का गाईकिंडू इंडोनेशिया इंटरनॅशनल ऑटो शो में लॉंच

प्रतिक्रियाएँ - 732

इस में कोई शक नहीं है की गाईकिंडू इंडोनेशिया इंटरनॅशनल ऑटो शो विश्व के अनगिनत कमर्शियल व्हीकल मॅन्यूफॅक्चरर्स के लिए एक बेहद महत्त्वपूर्ण ऑटो शो है। भारत की टाटा मोटर्स ने वहाँ टाटा अल्ट्रा 1012 लाइट ट्रक और ज़ेनन एक्स टी डी-केब 4X4 पिक अप लॉंच किए। इस पोस्ट को मिली 732 प्रतिक्रियाएँ, लेकिन असल तथ्य यह है की महिंद्रा बोलेरो पिक अप हमेशा हर बात टाटा मोटर्स के पिक अप्स को पछाड़ देती हैं। टाटा आसानी से कुछ ऐसा कर सकते थे जिस से उस के पहले से मौजूद टाटा ज़ेनन पिक अप की उपस्थिति भारतीय सड़कों पर बढ़ती।

निष्कर्ष

टाटा मोटर्स को भारत में अपने कमर्शियल व्हीक्ल्स को लेकर सोशल मीडीया की रणनीति पर काफ़ी काम करना होगा। अगर वह, अपनी कार्स टाटा टियागो, और टाटा हेक्सा के लिए सोशल मीडीया पर आक्रामक रुख़ अपना सकते हैं तो कम से कम इससे आधा ज़ोर तो ट्रक्स और पिक अप व्हीक्ल्स के लिए लगा ही सकते है। एक कुएँ में रहकर पूरी कमर्शियल व्हीकल इंडस्ट्री पर राज करने की सोचना, और वो भी पुराने ज़माने की पी आर और मार्केटिंग के मध्यम से, उसके लिए अच्छा तो शायद ना हो सके परंतु हानिकारक ज़रूर साबित हो सकता है। कुल मिलकर, अब समय आ चुका है की टाटा मोटर्स अपने फेस बुक हेंडल का इस्तेमाल सही ढंग से व सावधानी के साथ करे।

डिसक्लेमर - हम ने टाटा के सोशल मीडीया हेंडल को सर्च किया है केवल कमर्शियल व्हीक्ल्स से जुड़े की-वर्ड्स के ज़रिए।

(हम आभारी हैं रॉबिनदर गाउबा, बिज़नेस हेड, ट्रक्सदेखो.कॉम के, जो की भूतपूर्व डेटा साइंटिस्ट, जॉर्जटाउन यूनिवर्सिटी, यूएसए, भी हैं, जिन्होंने इस सोशल मीडीया डेटा को कॉन्सेप्च्वलाइज़ किया व स्टॅटिस्टिकली एनलाइज़ करते हुए इंटरप्रेट किया।)

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?