• शहर चुनें

भारत स्वीडिश कंपनीज़ के लिए एक मुख्य एक्सपोर्ट हब: सर्वे रिपोर्ट

Published On Feb 16, 2016By प्रशांत तलरेजा

हाल में किये गये एक सर्वे के अनुसार, स्वीडिश मॅन्यूफॅक्चरिंग दिग्गज भारत को एक रिलाइयबल इनवेस्टमेंट डेस्टिनेशन और एक्सपोर्ट सेंटर के रूप में देखते हैं। स्वीडिश चेंबर ऑफ कॉमर्स इंडिया द्वारा किये गये इस सर्वे में यह सामने आया है की 70 प्रतिशत स्वीडिश कंपनीज़ भारत को उनके एक्सपोर्ट बिज़नेस के लिए एक मज़बूत सपोर्ट के रूप में देखती हैं। रिपोर्ट ने दावा किया है की, "यह बात उल्लेखनीय है की इस तरह की भावना पिछले साल केवल 30 प्रतिशत कंपनीज़ ने ही व्यक्त की थी।"

यह कंपनीज़ वो है जो की कई दशकों से भारतीय बिज़नेस एरिना में काम कर रही है, व देश में इस अरसे में करीब दो मिलियन जॉब्स की साक्षी बनी हैं। इस में इंडस्ट्री के विख्यात नाम जैसे एटलस कॉपको, एबीबी, कँफिल, आइकेईए, एरिक्सन, एसएएबी, स्केनिया, और सेंडविक शामिल हैं। रिपोर्ट में आगे खुलासा किया गया है की, "कंपनीज़ का यह भी मानना है की यदि भारत को ग्लोबल वॅल्यू चैन का हिस्सा बनना है तो कुछ मुख्य सुधारों को अमल में लाना ज़रूरी है।"

इस सर्वे ने करीब 141 स्वीडिश कंपनीज़ जो की भारत में विभिन्न क्षेत्रों, जैसे इंजिनियरिंग, फॅशन, लाइफ स्टाइल और हेल्थ केयर, से जुड़ी हैं के विचारों को शामिल किया था। यह ब्रांड्स महाराष्ट्र, कर्नाटक और दिल्ली क्षेत्र को अपने पसंदीदा बिज़नेस डेस्टिनेशन मानते हैं। "करीब 90 प्रतिशत कंपनीज़ यह इशारा देती हैं की वह अपने इनवेस्टमेंट्स उन्ही स्टेट्स में करेंगी जिन में वह पहले से ही मौजूद हैं, जब की कुछ 30 प्रतिशत का मानना है की वह तीन नये स्टेट्स - तमिल नाडू (10 कंपनीज़), राजस्थान (8 कंपनीज़) और गुजरात (6 कंपनीज़) में अपना विस्तार करेंगी," रिपोर्ट ने दावा किया है। इस में आगे बताया गया है की, "पिछले साल, उड़ीसा, गुजरात, महाराष्ट्रा, वेस्ट बेंगल और आंध्रा प्रदेश (एपी) / तेलंगाना टॉप स्टेट्स की सूची में देखे गये थे।"

महाराष्ट्र स्वीडिश कंपनीज़ के लिए अभी भी बिज़नेस के लिए पहली पसंद बना हुआ है, इस राज्य में हर तीन में से एक कंपनी स्थित है। राज्य स्वीडन की कंपनीज़ के लिए एक्सपोर्ट और इम्पोर्ट के लिए एक महत्वपूर्ण स्थान है, और यह अन्य बिज़नेस पार्ट्नर्स के साथ भी करीबी कॉंटॅक्ट्स रखने में मदद करता है। मुंबई स्थित स्वीडिश कॉन्सुलेट से श्री फ्रेडरिका ऑरन्ब्टेंट बताते हैं की, "पिछले साल के विपरीत बिज़नेस में कमी आने के बावजूद भारत में मौजूद स्वीडिश कंपनीज़ का बिज़नेस को लेकर पॉज़िटिव सेंटिमेंट है। वह लगातार अपने मॅन्यूफॅक्चरिंग और ऑपरेशन्स का विस्तार करने व ज़्यादा से ज़्यादा इनवेस्ट करने के लिए तत्पर हैं।"

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?