• शहर चुनें

रेनो ने अपने टी रेंज हेवी ट्रक का नया वर्ज़न लॉंच किया

Published On Mar 18, 2016By प्रशांत तलरेजा

फ्रांस की मशहूर ऑटोमोटिव फर्म, रेनो, ने हाल ही में अपने हेवी ड्यूटी ट्रक्स की टी-रेंज का अपडेटेड वर्ज़न लॉंच किया है। मूल रूप से साल 2013 में लॉंच हुए, इन मॉडल्स का इंडस्ट्री ने बेहद अच्छे ढंग से स्वीकार किया। ट्रक का रोबोटाइज़्ड ऑप्टी ड्राइवर ट्रांसमिशन और मज़बूत एरोडाइनमिक क्वालिटी इस की राइड क्वालिटी और माइलेज को बेहतर बनाने में मदद मुहैया करती है। साथ ही, इसके स्ट्रेट सिक्स इंजन अच्छी ड्राइव पावर और परफॉर्मेंस का बेहतरीन मिश्रण प्रस्तुत करते हैं। इन विख्यात मॉडल्स ने जर्मनी में आयोजित आइएए मोटर शो में 'इंटरनॅशनल ट्रक ऑफ दी इयर' का अवॉर्ड अपने नाम किया था।

कंपनी ने अब इन मॉडल्स का अपग्रेडेड वर्ज़न रिलीज़ किया है। फर्म का दावा है की यह अब और बेहतर माइलेज देने में सक्षम होंगे। अंदरूनी डाइनमिक्स में किये गये बदलाव मॉडल को लंबे हॉलेज यात्रा के समय मशीन पर आने वाले तनाव को कम करेंगे। इस के अलावा, मॉडल में वो डिज़ाइन एलिमेंट्स डाले गये हैं जिन को मॅन्युफॅक्चरर ने टेस्ट एक्सपेरिमेंट के समय दर्शाए थे।

ट्रक में लगाया गया है बिल्कुल नया अंडर-बंपर स्पोइलर और एक लाइट रूफ डिफ्लेक्टार, जो इसकी एरोडाइनमिक स्टेबिलिटी को मज़बूत करता है। "यह स्पोईलर बेहतर ढंग से एयर फ्लो ट्रक के नीचे से डाइरेक्ट कर सकता है और एरोडाइनमिक डिस्टरबेंस को ख़ासा कम कर सकता है, जो की एक फ़्यूल खपत का एक अहम स्रोत है," श्री माइक स्ट्रिंगरर ने समझाया, जो की रेनो के सीनियर सेल्स इंजिनियर हैं। वह आगे बताते हैं की, "इस के अलावा, नई टी रेंज इंट्रोड्यूस करती है, एक नया और हल्का बिना किसी मेटल फ्रेम के रूफ डिफ्लेक्टार, जो ट्रक को हवा में और भी ज़्यादा आसानी से भेदने में मदद करता है।" कंपनी का मानना है की यह सभी उपाय इन मॉडल्स में दो प्रतिशत तक फ़्यूल खपत कम करने में सहयोग करेंगे।

इस के अतिरिक्त, और भी कई तरह के बदलाव किए गये हैं चेसिस में, जिस से इस का रोड पर वज़न कम हो जाता है।

इस के अतिरिक्त, और भी कई तरह के बदलाव किए गये हैं चेसिस में, जिस से इस का रोड पर वज़न कम हो जाता है। यहाँ एक री-डिज़ाइंड एक्सल और एक इंप्रूव्ड एयर सस्पेंशन अरेंज्मेंट मशीन का वज़न कम करने में काफ़ी मदद करते हैं। और इस के कारण ट्रक्स ज़्यादा पे लोड ले जाने में सफल हो पाते हैं, जहाँ तक श्री स्ट्रिंगरर बताते हैं, यह 114 किलो ग्राम तक ज़्यादा वज़न अब उठा पाएँगे।

इस नये मॉडल का एक शानदार फीचर हा इस का नया ऑप्टीविज़न सिस्टम, जो की ओवर ऑल ड्राइव स्टेबिलिटी को बढ़ाने के काम में आता है। दूसरे किसी रेग्युलर क्र्यूज़ कंट्रोल सिस्टम की तरह, इस फेसिलिटी में ख़ासियत है सभी ऑप्टीविज़न सज्जित ट्रक्स के रूट्स को रिकॉर्ड और स्टोर करने की। अपने इस विशाल प्री इनफॉर्मॅटिव डेटा बेस से यह व्हीकल के फ़्यूल खपत में कमी लाने में मदद करता है जब वह किसी भी ऐसे रूट पर चलता है जो की पहले से ही किसी दूसरे मॉडल द्वारा टेस्ट किया जा चुका है। इस वजह से ड्राइवर पर प्रेशर काफ़ी कम हो जाता है और साथ ही यह फ़्यूल इकॉनोमी को बेहतर बनाने में भी सहायक साबित होता है।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?