• शहर चुनें

कामाज भारत में ट्रक असेंबली फिर से शुरू करेगा

Published On Apr 08, 2016By तुषार विजय

भारतीय ट्रक मार्केट साल 2012 से 2014 तक मंदी देखने के बाद एक बार फिर से बढ़ोतरी की ओर जाता दिखाई दे रहा है। हालांकि, मार्केट अभी पूरी तरह से गति पकड़ने वाला है जिस से अशोक लीलैंड, आईशर तथा अन्यों के लिए बड़ी सफलता के द्वार खुलते नजर आ रहे हैं। पहले से भारत के ग्लोबल स्तर पर एक प्रमुख मार्केट के रूप में उभरने के साथ ही विदेश ट्रक मेकर्स जैसे वोल्वो, स्कैनिया, इसूजू, कामाज तथा अन्य आदि देश में अपना प्रोडक्शन बढ़ाने पर काम कर रहे हैं। हाल ही में हुए सुधारों के तहत रशियन ट्रक मेकर कामाज ने कहा है कि वह साल 2016 के मध्य तक भारत में ट्रक असेंबलिंग फिर से शुरू करेगी।

रशिया के 24 टीवी चैनल से बात करते हुए कंपनी के चीफ एग्जीक्यूटिव श्री सर्गेई कोगोगिन ने कहा कि “आज हमने असेंबली से संबंधित कॉन्ट्रेक्ट एग्रीमेंट साइन किया है तथा अब इस साल के मध्य तक भारतीय मार्केट में हमारा काम शुरू हो जाएगा।” यह कंपनी ट्रक असेंबल करने के लिए अपना तमिनाडु स्थित प्लांट काम में लेगी। इस से पहले साल 2011 में कामाज ने भारत में अपनी शुरूआत वेक्ट्रा ग्रुप के साथ मिलकर की थी, लेकिन साल 2014 में इस पार्टनर का अधिग्रहण के बाद यह पूर्ण स्वामित्व वाली कंपनी के तौर पर अपना काम कर रही है।

अभी कामाज की भारत में फ्लीट में 6 ट्रक्स हैं; जिन में जीवीडब्लू शामिल है और ट्रक्स 25 टन से 49 टन की क्षमता वाले हैं। लेकिन लोकल असेंबली प्लांट में काम शुरू करने के बाद इस लिस्ट और भी नए प्रोडक्ट्स जुड़ेंगे। यह कंपनी अपने तमिलनाडु प्लांट से ट्रक्स को एशिया के अन्य देशों में निर्यात करने पर काम कर रही है जिस के पीछे का मकसद भारत को वैश्विक ऑपरेशंस का हब बनाना है। हालांकि इस बारे में फिलहाल ऑफिशियल तौर पर कुछ नहीं कहा गया हैं।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?