• शहर चुनें

अशोक लीलेंड 400 करोड़ रुपये का निवेश करेगा 8-10 एलसीवी लॉंच करने में

Published On Oct 04, 2016By लिसा प्रधान

हाल ही में निसान के साथ अपना आठ साल पुराना नाता तोड़ने के बाद, अब अशोक लीलेंड लाइट कमर्शियल व्हीकल (एल सी वी) सेगमेंट में नये सिरे से धावा बोलने की तैयारी में है। अपने विशाल 400 करोड़ रुपये के निवेश के साथ, हिंदुजा ग्रूप का कमर्शियल व्हीकल मेकर आने वाले दो-तीन सालों में 8 से 10 कमर्शियल व्हीक्ल्स लॉंच करने की योजना बना रहा है।

अशोक लीलेंड, जो की भारत के अग्रीण कमर्शियल व्हीकल निर्माताओं में से एक है, कमर्शियल व्हीकल इंडस्ट्री में अपनी पैठ जमाने के लिए पूर्ण रूप से प्रतिबध दिखाई दे रहा है। कंपनी के इन नये लॉंचस में मौजूदा व्हीक्ल्स के अपडेटेड वेर्ज़न्स भी होंगे व इस सेगमेंट के नये मॉडल्स भी शामिल होंगे।

अशोक लीलेंड के मेनेजिंग डाइरेक्टर श्री विनोद दसारी ने जानकारी देते हुए बताया की, "हम काफ़ी सारे मॉडल्स जोड़ेंगे. हम अपने से ही योजना बना रहे हैं और जल्द ही हमारे पास कई सारे नये मॉडल्स होंगे। आने वाले दो से तीन सालों में हमारे पास एल सी वी सेगमेंट व्हीक्ल्स की एक पूरी रेंज मौजूद होगी।" उन्होंने यह भी कहा की कंपनी नये वेरियंट्स, नये मॉडल्स और नये प्लेटफॉर्मस लॉंच करेगी, जिस में इन 8 से 10 व्हीक्ल्स के लिए कुल मिलकर करीब 400 करोड़ रुपये का निवेश होगा। श्री दसारी ने आगे बताया की इन में से शुरुआत के कुछ व्हीक्ल्स को मार्केट में आने वाले छे: महीनों में रोल आउट कर दिया जाएगा।

इन नये प्रॉडक्ट्स में काम आने वाली टेक्नॉलॉजी को अशोक लीलेंड इन-हाउस (आने बूते पर खुद) डेवेलप करेगा। कंपनी फिलहाल इस सेगमेंट में 'दोस्त' और 'पार्ट्नर' नामक व्हीक्ल्स बेचती है। यह दोनों ही व्हीक्ल्स निसान की डिज़ाइन, इंजनीरिंग और टेक्नॉलॉजी पर आधारित हैं।

श्री दसारी ने इस बात पर भी रोशनी डाली की कंपनी अब अपने बेनर तले एलसीवी सेगमेंट में व्हीक्ल्स की एक पूरी रेंज उतारेगी। "हमारे कई सारे कस्टमर्स, जिन के पास बड़े व्हीक्ल्स हैं, को स्माल व्हीक्ल्स की भी ज़रूरत पड़ती है, इस लिए हमारा मानना है की इस बिज़नेस में हम लगातार निवेश करते रहेंगे और इसे बढ़ाते रहेंगे," उन्होंने कहा।

फिलहाल, कमर्शियल व्हीक्ल्स मेकर का प्रोडक्षन केपॅसिटी बढ़ाने के प्रति कोई रुझान नही है और वह मौजूदा फसिलिटीज़ का ही इस्तेमाल करेंगे नये व्हीक्ल्स को मॅन्यूफॅक्चर करने में। अभी पिछले महीने ही जापानी ऑटो मेकर निसान ने अपने पार्ट्नर अशोक लीलेंड को तीन भागों में अपना स्टेक बेच दिया है। इस के साथ ही दो कंपनीज़ के बीच आठ साल पुराने डगमगाते सहयोग का अंत हुआ। कंपनीज़ ने ईक्विटी के तौर पर 1000 करोड़ रुपये का निवेश किया था जॉइंट वेंचर्स में, जिस में अशोक लीलेंड निसान व्हीक्ल्स (व्हीकल मॅन्यूफॅक्चरिंग के लिए), निसान अशोक लीलेंड पावर ट्रेन (पावर ट्रेन विकसित करने के लिए) और निसान अशोक लीलेंड टेक्नोलॉजीज़ (एक टेक्नॉलॉजी जॉइंट वेंचर) शामिल थे।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?