• शहर चुनें

क़र्ज़ में कमी लाने के लिए अशोक लीलेंड करेगा अपने 23 जॉइंट वेंचर्स का निपटारा

Published On Mar 11, 2016By प्रशांत तलरेजा

इन दिनों भारतीय ट्रक दिग्गज, अशोक लीलेंड ने अपने जॉइंट वेंचर्स की समस्याओं को लेकर काफ़ी सुर्खियाँ बटोरी हैं। हाल ही में कंपनी की अपने जापानी पार्ट्नर निसान के साथ संबंधों में खटास के बाद लाइट कमर्शियल व्हीकल (एलसीवी) जॉइंट वेंचर टूटने की बात सामने आई थी। फिलहाल यह मामला कोर्ट में है, जिस में अशोक लीलेंड ने दावा किया है की निसान द्वारा उसकी चेन्नई स्थित फेक्ट्री का ग़लत इस्तेमाल किया गया है।

लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है की, अशोक लीलेंड का यह सिर्फ़ एक जॉइंट वेंचर नहीं है, जिस के साथ उसकी समस्या चल रही है। इंडस्ट्री से आ रही रिपोर्ट्स में खुलासा हुआ की कंपनी अपने कुल 23 जॉइंट वेंचर्स से अपनी भागेदारी हटाना चाहती है, और सिर्फ़ चार जॉइंट वेंचर्स को ही जारी रखना चाहती है। विख्यात ट्रक ब्रांड बड़े क़र्ज़ के बोझ तले दबा हुआ है, और हालिया रणनीति के तहत वह अपने आपको कुछ राहत देना चाहता है। अब वह केवल उन्ही वेंचर्स की तरफ ध्यान देगा जो की उसके बिज़नेस से जुड़े हुए हैं।

पिछले करीब एक साल से, ऐसी रिपोर्ट्स चल रही है जिस में यह सामने आया है, कंपनी अपने नॉन कोर एसेट्स को ख़तम करके लगातार अपना क़र्ज़ कम करने की जुगत में लगी हुई है। साल 2013 से साल 2015 के बीच, अशोक लीलेंड अपने मूल 4,690.32 करोड़ रुपये के कर्ज़े को 3,349.72 करोड़ रुपये तक नीचे ले आई है। वेंचर्स की समाप्ति के अलावा कंपनी ने अपने एम्पलॉइस को भी निशाना बनाया है, और अपने कई एग्ज़िक्युटिव्स को वॉलंटरी रिटाइयर्मेंट स्कीम के तहत उनकी सेवाओं का ख़ात्मा किया है।

गत साल मार्च में, ट्रक के प्रमुख ब्रांड ने अपने आप को दो बड़े जॉइंट वेंचर्स की शेयर होल्डिंग से अलग कर लिया था, जिन में अशोक लीलेंड विंड एनर्जी और अविया अशोक लीलेंड मोटर्स शामिल हैं। अन्य जानी मानी फर्म्स जिन से अब कंपनी अपना नाता तोड़ेगी वाली है, वह एशले आल्टीम्स इंडिया, जो की एक अल्यूमिनियम डाइ बनाने वाली फर्म है, और कन्स्ट्रक्षन व्हीकल मॅन्युफॅक्चरर, जॉन डीरे है।

अशोक लीलेंड के एक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया की, "हम लगातार अपनी सभी सबसिडियरीस को उनके परफॉर्मंस और रेलवेन्स के ज़रिए आँकते हैं, और उसके बाद किसी रणनीति की बुनियाद के तहत नतीजे पर पहुँचते हैं। सभी सबसिडियरीस को बंद करना हमारा कोई ख़ास मकसद नहीं है। यह किसी भी बिज़नेस की एक साधारण सी प्रक्रिया है।"

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?