• शहर चुनें

अशोक लीलैंड सफलता के साथ वापसी कर रही है

Published On Feb 01, 2016By प्रशांत तलरेजा

प्रमुख कमर्शियल व्हीकल निर्माता अशोक लीलैंड अपने सबसे कठिन समय से सामना करने के बाद एक बार फिर सफलतम वापसी करने की ओर अग्रसर है । कुछ समय पहले तक कंपनी कर्ज का सामना कर रही थी, और अपना ठोस स्थान बनाने में कामयाब नहीं हो पा रही थी ।

अशोक लीलैंड और इवेको, जो कि वर्ष 1987 में एक टीम के रूप में स्थापित हुए थे, इनके अलग होने के बाद निवेश क्षमता और विविधिता के अनुसार तेजी से बढ़ा और 1200 करोड़ वार्षिक तक हो गया। यह अगले छः साल तक चला जब तक कंपनी ने धन का विस्तार नहीं किया।

अशोक लीलैंड के मैनेजिंग डायरेक्टर श्री विनोद देसारी ने कहा कि, “इस तरह का इन्वेस्टमेंट रूके हुए प्वॉइन्ट को खोलता ,है और फिक्स्ड कीमतें बढ़ती हैं। इसी क्रम में कर्जों का निबिद्ध इन्वेस्टमेंट 6800 करोड़ रुपये तक बढ़ चुका है। इसको प्रभावित करने का इसके अलावा अन्य मुख्य कारण इंडस्ट्री में उन कई फर्मो का प्रवेश करना भी है जो मार्केट में प्रमुख तौर पर अपनी हिस्सेदारी रखती हैं।”

एक बार फिर से पुनःस्थिति पाने के लिए कीमतें कम हो गई थी, तथा नए प्रोडक्ट्स और प्लेटफॉर्म्स में निवेश किया गया था। श्री देसारी ने कहा “हमने सिर्फ कीमतें कम की हैं बल्कि अशोक लीलैंड में वृद्ध करने के लिए आधाभूत तरीके से बदलाव किया ताकी स्थिर और संभले रहें।”

सर्विस सेंटरों का बड़ी संख्या में स्थापित करना और प्रत्येक आउटलेट को स्पेयर पार्ट्स मुहैया कराने वाला बनाना नेटवर्क में बढ़ावा करने के लिए एक रणनीतिक तरीका था। श्री देसारी ने कहा, “हम 17 डीलर्स के साथ मिलकर गल्फ एश्ले नाम की कंपनी बना चुके हैं, जो पूर्ण रूप से हमारे स्वामित्व वाली है। सभी लाभ कमा रहे हैं और मैंने मेरे डीलर्स को वो आप्शन भी दे दिए है, जिसके तहत वो जो भी हमें अपना चाहता है उसें खरीद सकते हैं।”

150 सर्विस सेंटरों के संबंध में बात की जाए, तो उनमें “तत्काल” 24x7 की सुवधा भी सूचना और सहायता चाहने वालें के लिए शुरू की जा चुकी है। श्री देसारी ने कहा, “यदि हम दिए गए समय में आपका व्हीकल नहीं ला पाए तो प्रतिदिन के हिसाब से 1000 रूपए का हर्जाना देंगे। यह मेरे नेटवर्क में मेरे विश्वास का वक्तव्य है।“ उन्होंने आगे बताया, “यह विचार किसी के लिए नाखून कुचरने जैसा नहीं लेकिन हम कहां गलत हैं उसके लिए खिंचाई करने के लिए है।”

लीलैंड ट्रक्स, बसेज, स्पेयर पार्ट्स, पावर सॉल्युशंस, डिफेंस और कमर्शियल व्हीकल्स जैसे क्षेत्रों में आगे बढ़ने पर जोर दे रही है।

लेटेस्ट मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत

पॉपुलर मॉडल्स

  • ट्रक्स्
  • पिकअप ट्रक्स्
  • मिनी-ट्रक्स्
  • टिप्पर्स
  • ट्रेलर्स
  • 3 व्हीलर
  • ट्रांजिट मिक्सचर
  • ऑटो रिक्शा
*एक्स-शोरूम कीमत
×
आपका शहर कौन सा है?